7 Day Workout Plan – जाने किस दिन आपको किस बॉडी पार्ट की वर्कआउट करनी चाहिए

550
7 Day Workout Plan

आज के समय में फिटनेस को लेकर लोगो में काफी उत्सुकता देखने को मिलती है। सबसे ज्यादा उत्सुकता आप युवाओ में देख सकते है। यह काफी अच्छी बात है की लोगो के फिटनेस को लेकर लोग इतने सकरात्मक है। यदि आप भी अपने आप को फिट रखना चाहते है तथा एक अच्छी बॉडी बनाना चाहते है तो आज हम आपको बताएँगे की आपको GYM में दिन के अनुसार कौन – कौन सी वर्कआउट करनी चाहिए। ज्यादातर लोगो को इसके बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं होती है। की उन्हें कौन से दिन क्या वर्कआउट करनी होती है। जिससे उनकी बॉडी जल्दी बन सके।

दिन के अनुसार वर्कआउट करने से आपकी बॉडी को आराम मिल जाता है। क्योंकि दिन के हिसाब से वर्कआउट करने से सबसे अधिक लाभ यह होता है की आपके हर बॉडी पार्ट को रेस्ट करने का दिन मिल जाता है। क्योंकि आप निरंतर ही एक ही बॉडी पार्ट को टारगेट करते है। तो उस बॉडी को आप कभी भी अच्छे से नहीं बड़ा सकते है। क्योंकि वर्कआउट के बाद हमारी बॉडी की मसल्स टूट जाती है जिसे हमें रिकवरी के लिए आराम देना होता है। जिससे आपका मसल्स अच्छे से ग्रो कर सके।

यदि आप एक अच्छी बॉडी बनाना चाहते है तो आपको दिन के अनुसार निम्नलिखित प्रकार से वर्कआउट प्लान को फॉलो करना चाहिए जैसे की –

सोमवार (लेग वर्कआउट)

लेग हमारे बॉडी पार्ट का एक ऐसा हिस्सा होता है जिसपर हम अच्छे से वर्कआउट करे तो हम इस पार्ट को काम समय में अच्छे से बड़ा सकते है। परन्तु अधिकतर देखा जाता है की लेग वर्कआउट को नहीं करते है। क्योंकि लेग वर्कआउट में आपके लेग्स में काफी दर्द होता है। परन्तु आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए की आपके शरीर का बड़ा पार्ट ही जल्दी ग्रो करता है। इसलिए आपको अपने वर्कआउट प्लान के अनुसार पहले ही दिन लेग वर्कआउट को अच्छे से करना चाहिए। हम आपको बता दें की पुरे शरीर का 60% भाग हमारे लेग्स में होता है।

मंगलवार (बैक वर्कआउट)

आपको दूसरे दिन बैक वर्कआउट करना चाहिए। क्योंकि जब अपने लेग्स की वर्कआउट करते है तो उस दौरान हमारे बैक पार्ट के कुछ मसल्स काम करते है। वैसे हमें दूसरे ही दिन बैक की वर्कआउट करनी चाहिए क्योंकि लेग्स के बाद बैक ही हमारे शरीर का सबसे बड़ा पार्ट होता है। इसलिए किसी भी व्यक्ति को अपने शरीर के बड़े पार्ट को हफ्ते के शुरुआत में ही कवर कर लेना चाहिए।

बुधवार (Chest Workout)

वही हमें तीसरे दिन अपनी चेस्ट वर्कआउट करनी चाहिए। क्योंकि यह हमारी बॉडी का तीसरा बड़ा मसल्स होता है। इतना ही नहीं हमारे शरीर में चेस्ट के दो प्रकार होते है पहला पेक्टोरलिस मेजर तथा दूसरा पेक्टोरलिस माइनर है।

वीरवार (Shoulder Workout)

शोल्डर पार्ट की वर्कआउट हमें चौथे दिन करनी चाहिए। वैसे शोल्डर पार्ट की आधी वर्कआउट तो हम अपनी चेस्ट वर्कआउट के दौरान ही कर लेते है। क्योंकि चेस्ट की वर्कआउट के दौरान हमें शोल्डर पार्ट का इस्तेमाल होता है। तो आप को इस बात का ध्यान रखना होता है की चेस्ट की वर्कआउट के अगले दिन आपको शोल्डर वर्कआउट करनी होती है।

शुक्रवार (Biceps Workout)

Biceps हमारे शरीर का सबसे छोटा मसल्स होता है। इतना ही नहीं यह मसल्स काफी धीरे बढ़ता होता है। अधिकतर लोग Biceps Workout करना काफी पसंद करते है। केवल लेग वर्कआउट को छोड़कर आपकी सभी मसल्स वर्कआउट में Biceps का इस्तेमाल होता होता है।

शनिवार (Triceps Workout)

छठे दिन आपको अपनी बॉडी के Triceps मसल्स की वर्कआउट करनी चाहिए। यदि आप अपने  बाइसेप्स मसल्स की वर्कआउट करते है। तो इसमें आपके Triceps मसल्स पर जोर नहीं आता है। क्योंकि हफ्ते के आखिरी दिन आप इस मसल्स की अच्छे वर्कआउट कर सकते है।

रविवार (Rest Day )

आपको हफ्ते के आखिरी दिन अपनी बॉडी को आराम देना चाहिए। क्योंकि लगातार वर्कआउट करने से आपकी बॉडी थक जाती है तो आपको एक दिन आपको किसी भी प्रकार वर्कआउट करनी चाहिए। इस दिन आपको सिर्फ आराम करना चाहिए। परन्तु आपको अपनी डाइट को नहीं छोड़ना है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here