ध्यान रहें ! इस दिन भूलकर भी न तोड़ें तुलसी का पत्ता

147
Tulsi

आज के समय में अधिकतर लोग अपने घर में तुलसी का पौधा लगाना पसंद करते है। क्योंकि भारतीय शास्त्रों के अनुसार, तुलसी के पौधे का महत्व बहुत अधिक है। जैसाकि आपको पता ही होगा की तुलसी के पौधे की जरूरत हर शुभ कार्य में पड़ती रहती है। इतना ही नहीं भगवान विष्णु को तुलसी का पौधा बहुत पसंद है। इसलिए अधिकतर लोग भगवान विष्णु की पूजा के दौरान उनके प्रसाद में तुलसी के पत्ते क उपयोग करते ही। इसके अलावा, भगवान को भोग लगते समय में भी इस पत्ते को उपयोग में लाया जाता है। हम आपको बताना चाहते है की कई प्रकार के रोगों से भी लड़ने में तुलसी का पौधा हमारी मदद करता है। क्योंकि इस पौधे में कई प्रकार के ऐसे लाभदायक गुण पाए जाते है। जो हमारी सेहत के लिए काफी लाभदायक होते है।

नहीं तोड़ना चाहिए इस दिन तुलसी का पत्ता

यदि आपके घर में तुलसी का पौधा लगा है तो यह आपके लिए बहु अच्छी बात है क्योंकि हमारे जीवन में इस पौधे का होना एक वरदान की तरह है। क्योंकि इस पौधे से हमें कई प्रकार के लाभ होते है। तथा आपके घर में सकरात्मक वातावरण बना रहता है। किसी व्यक्ति को रविवार के दिन तुलसी के पत्ते को नहीं तोड़ना चाहिए। इसके अलावा, आपको चंद्रगहण, एकादशी को भी तुलसी के पत्ते को नहीं तोड़ना चाहिए। साथ ही कभी भी सूर्यास्त होने के बाद तुलसी के पत्ते को नहीं तोड़ना चाहिए। क्योंकि हिन्दू शास्त्र के अनुसार, इन दिनों को तुलसी के पत्ते को तोड़ना अशुभ माना जाता है।

इसके अलावा, आपने अक्सर देखा होगा की जब भी कोई विशेष पूजा  होती है तो तुलसी के पत्ते की बहुत जरूरत पड़ती है। क्योंकि कहा जाता है की बिना तुलसी के पत्ते के पूजा अधूरी रहती है। क्योकि पूज में तुलसी के पत्ते का होना शुभ माना जाता है।

यदि आपने अभी तक तुलसी के पौधे को अपने घर में नहीं लगवाया है तो आज ही लगवा दें। क्योंकि घर में तुलसी के पौधे की उपस्थिति को शुभ माना जाता है। इतना ही नहीं यदि आपके घर में तलसी का पौधा लगा होता है तो आपके घर म कभी भी नकारात्मक वातावरण नहीं बनेगा।

इतना ही नहीं यदि आप काफी समय से पेट की बिमारी से जूझ रहें तो आपको रोजाना तुलसी के पत्ते का खाली पेट सेवन करना चाहिए। क्योंकि रोज खाली पेट तुलसी के पत्ते के सेवन से आप कोई प्रकार के रोगों से लड़ सकते है। इसके अलावा, आपका खून साफ़ रहता है और आपके बाल में कभी भी नहीं झड़ते है।

सर्दी में सबसे अधिक लाभ मिलता है इस पौधे का

यदि सर्दी के मौसम में कभी भी बुखार या सर्दी हो जाती है। तो उस समय के लिए तुलसी का पत्ता अधिक लाभदायक होता है क्योंकि यदि आप इसके पत्ते को मिश्री, काली मिर्च के साथ मिलकार उसका काढ़ा बनाकर पीते है तो आप बहुत ही जल्द सर्दी और बुखार से निजात पा सकते है। इसके अलावा, आपकी त्वचा के लिए भी इस पत्ते का बहुत अधिक महत्व है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here