दोषी बेटे की माँ ने निर्भया की माँ से मांगी माफ़ी कहा-मेरे बेटे को माफ़ कर दो

0
nirbhaya case hanging date

सारे देश को झंझोर के रखने वाले गैंगरेप जो 16 दिसंबर 2012 को हुआ था। उस केस में फैसला करते हुए 7 जनवरी 2020  को कोर्ट ने सारे आरोपियों  के डेथ वारंट जारी कर दिए। और उनकी फ़ासी की तारीख  22 जनवरी 2020 तय कर दी है। सुबह 7  बजे इन लोगो को फ़ासी दी जाएगी। 

कोर्ट के फैसले से पहले

दिल्ली कोर्ट के फैसले से पहले  गैंगरेप के आरोपी  मुकेश सिंह की माँ ने निर्भया की माँ से माफ़ी मांगी और उनसे बेटे की जान  भीख मांगने लगी और बोली उसे माफ़ कर दो। में उसकी ज़िन्दगी की भीख मांगती हु और वह रोती रही। 
निर्भया की माँ  ने जवाब दिया की मेरी भी बेटी थी। उसके साथ जो कुछ हुआ उसे कैसे भूल जाऊ।  मैंने भी सात साल तक इंतज़ार किया है। इसके बाद जज ने कोर्ट में शांति बनाये रखने की अपील की। 

कोर्ट का फैसला 

दिल्ली के कोर्ट ने चारो आरोपियों के डेथ वारंट जारी करते हुए। सभी आरोपियों को फांसी देने की तारीख तय कर दी। सभी आरोपियों को 22 जनवरी 2020  को सुबह 7 बजे फांसी दी जाएगी। सभी आरोपी फैसला सुन के रोने लगे। उनकी कोर्ट केस की सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये करवाई गयी। 14 दिन के अंदर फांसी की सजा देने की तैयारी की जाएगी। 

दया याचिका लगा सकते है आरोपी 

यह आरोपी अभी दया याचिका  राष्टपति के पास भेज सकते है। इस दया याचिका की सुनवाई कब तक होगी।  इसकी कोई समय सीमा तय नहीं है तो उनकी फांसी की सजा टल सकती है।  जब तक दया याचिका पर फैसला नहीं आता।  

क्या है घटना

16 दिसंबर 2012 की रात को निर्भया और उनका दोस्त  घर जाने के लिए लौट रहे थे।जब वह घर जाने के लिए बस का इंतज़ार कर रहे थे। तभी एक बस आयी उसमे छह लोग सवार थे। उन लोगो  ने धोखे से  इन दोनों को अपनी बस में बिठा लिया। निर्भया के दोस्त के साथ मारपीट करके उसे घायल कर दिया और बाद में निर्भया के साथ रेप  किया।  दोनों को बस से नीचे फैक दिया। 
पुलिस ने सभी आरोपियों को पकड़ लिया। जिसमे एक आरोपी ने जेल में  ही फ़ासी लगा ली।एक और आरोपी जो नाबालिग था उसे 3 साल  बाल सुधार गृह की सजा पूरी कर के रिहा कर दिया गया।

❖ और पढ़ें:

जेएनयु हिंसा में घायल हुई छात्रा नेता आइशी घोष के खिलाफ एफआईआर -जानिए पूरा मामला

हिमाचल में डीपो से सस्ता राशन लेने की रियायत -जानिए पूरी खबर

बीजेपी लांच करेगी CAA संपर्क अभियान – जानिये पूरी खबर

45 साल की महिला ने अनुराधा पौडवाल को बताया अपनी माँ और माँगा 50 करोड़ का हर्जाना।

सफदरजंग हॉस्पिटल में रोबोट ने की 100 सर्जरी ,किडनी ट्रांसप्लांट में भी करेगा मदद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here