Wed. Jan 29th, 2020

Feroz Shah Kotla Stadium: अब अरुण जेटली के नाम से जाना जाएगा फ़िरोज़शाह कोटला मैदान

Feroz Shah Kotla Stadium

feroz shah kotla stadium Renamed In hindi: देश के चुनिंदा स्टेडियमों में से एक है फ़िरोज़शाह कोटला मैदान (feroz shah kotla) जो राजधानी दिल्ली में स्थित है। अब बहुत जल्द ही फ़िरोज़शाह कोटला मैदान को एक नया नाम मिलने वाला है। मंगलवार को दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (DDCA) ने फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम बदलने का फैसला किया है। डीडीसीए ने इस स्टेडियम का नाम अपने पूर्व अध्यक्ष और देश के पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के नाम पर रखने का निश्चय किया है। जैसाकि हम सभी जानते है कि पिछले हफ्ते शनिवार को बीजेपी नेता अरुण जेटली का निधन हो गया था। जेटली लम्बे समय से बीमार चल रहे थे। अब से फ़िरोज़शाह कोटला स्टेडियम को अरुण जेटली स्टेडियम के नाम से जाना जाएगा।

कब होगा फ़िरोज़शाह कोटला मैदान (feroz shah kotla stadium Renamed In hind) का नामकरण समारोह?

डीडीसीए के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के उपाध्यक्ष रह चुके थे अरुण जेटली। फ़िरोज़शाह कोटला स्टेडियम का नया नामकरण 12 सितंबर को एक समारोह में किया जाएगा। इसी तरह भारतीय कप्तान विराट कोहली के नाम पर इस स्टेडियम के एक स्टैंड का नाम रखा जाएगा, जिसकी घोषणा पहले ही की जा चुकी है। डीडीसीए (DDCA) ने स्टेडियम का नाम बदलने की जानकारी अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा की थी।

डीडीसीए द्वारा किए गए ट्वीट में कहा गया, ‘कोटला स्टेडियम का नाम बदल कर अरुण जेटली स्टेडियम कर दिया जाएगा। हालांकि मैदान का नाम फिरोजशाह कोटला ही रहेगा। दिल्ली के ऐतिहासिक क्रिकेट स्टेडियम का नाम बदलने के लिए समारोह का आयोजन 12 सिंतबर को किया जाएगा, साथ ही इस दिन स्टेडियम के एक स्टैंड का नाम विराट कोहली के नाम पर किया जाएगा।’

फिरोज़शाह कोटला स्टेडियम मे अरुण जेटली की भूमिका (feroz shah kotla stadium Renamed In hind)-

अरुण जेटली को ही फ़िरोज़शाह कोटला स्टेडियम (feroz shah kotla stadium) को दर्शक क्षमता बढ़ाने और आधुनिक सुविधाओं से युक्त बनाने के साथ विश्वस्तरीय ड्रेसिंग रूम प्रदान करने का श्रेय जाता है। नामकरण समारोह जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित होगा, इस समारोह में गृह मंत्री अमित शाह और खेल मंत्री किरण रिजिजू भी शामिल होंगे।।

दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा, ‘यह अरुण जेटली का प्रोत्साहन और सहयोग था जो कि वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, आशीष नेहरा, विराट कोहली,ऋषभ पंत और कई अन्य खिलाड़ियों ने भारत का नाम गौरवान्वित किया।’ पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन पर कई दिग्गज क्रिकेट खिलाडियों समेत बीसीसीआई ने दुःख प्रकट किया था।

इस नामकरण से पूर्व दिल्ली से बीजेपी के सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर की तरफ से भी दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल को ख़त लिखकर यमुना स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का नाम जेटली के नाम पर किया जाने की गुजारिश की थी। 24 अगस्त को लंबी बीमारी के बाद अरुण जेटली का दिल्ली के एम्स में निधन हो गया था। जेटली के निधन के शोक में भारतीय क्रिकेट टीम भी वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट में काली पट्टी बांध कर उतरी थी।

डीडीसीए का कोटला मैदान का नाम बदलने का फैसला कही ना कही हमें देश में चल रहे प्रतीकों और नामकरण की राजनीति की याद दिलाता है। ऐसा माना जाता है की देश में जिस पार्टी की सरकार हुई है उसने एयरपोर्ट, अस्पताल, स्टेडियम, सड़कों, स्कूलों और कॉलेजों का नाम अपने पार्टी के महान नेताओं के नाम पर रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *