Apple iphones गूगल के अनुसार, आईफोन को हैक कर रही है कुछ वेबसाइट्स

35
Apple iphones

Apple iphones: दुनियाभर में आईफोन के लाखों चाहने वाले है, साथ ही आईफोन (Iphone) को सबसे सुरक्षित फ़ोन में से एक माना जाता है। आज जिस बारे में हम आपको बताने जा रहे है वो खबर आपको थोड़ा शॉक कर सकती है। गूगल (Google) द्वारा एक सिक्योरिटी रिसर्च ने पाया गया है कि कुछ वेबसाइट्स लम्बे अर्से से iPhone यूजर्स को टार्गेट कर रही हैं और ये वेबसाइट ऐपल की कमियों का लगातार फायदा उठाती आ रही हैं। ये जानकार सभी आईफोन उपभोगता हैरान हो गए होंगे।

जहाँ एक तरफ नए iPhone लॉन्च की डेट का Apple ने ऐलान कर दिया है। ऐसे समय में गूगल के रिसर्चकर्ताओं ने ये अहम खुलासा करके निश्चित रूप से आईफोन यूजर्स के लिए असमंजस की स्थिति पैदा कर दी है। गूगल के शोधकर्ताओं ने यहां तक कह दिया है कि iPhone यूजर्स का लॉग इन क्रेडेंशियल, बैंकिंग पासवर्ड्स और भी संवेदनशील जानकारियां इस तरह के किसी भी अटैक से चोरी होने का खतरा हैं।

Google ने कहा, सुरक्षित नहीं आईफोन यूजर्स का डाटा – Apple iphones

Google Project Zero की ओर से Ian Beer ने एक ब्लॉग में कहा है, “यहां टारगेट में किसी भी तरह का भेदभाव नहीं था, सिर्फ हैक्ड वेबसाइट को विजिट करना आपके डिवाइस पर अटैक कराने जैसा है और अगर इसमें सफलता मिलती है तो आपके स्मार्टफोन में मॉनिटर करने वाले टूल भी आसानी से डाले जा सकते हैं’

आपको बता दे, गूगल के टास्क फोर्स का एक मेंबर Ian Beer हैं ओर Project Zero गूगल का एक प्रोजेक्ट है जिसमे नई सिक्योरिटी खामियां को ढूंढा जाता है। गूगल (Google) द्वारा की गई रिसर्च के अनुसार, इंटरनेट की दुनिआ में कई ऐसी वेबसाइट्स हैं जिसका उद्देश्य सिर्फ आईफोन का खामियों का फायदा उठा कर आईफोन यूजर्स के डाटा को हैक करने के लिए ही मुख्य रूप से बनाई गई हैं। Google Project Zero के Ian Beer का ये भी कहना है कि उन्हें आशंका है कि इस तरह की वेबसाइट पर हर हफ्ते हजारों बार लोग विजिट करते हैं और ये कई सालों से बिना किसी पाबन्दी के चल रही हैं।

इस विषय में सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि गूगल रिसर्च टीम ने ऐसे पांच अलग अलग iPhone एक्स्प्लॉइट चैन को ढूंढा है iOS 10 से लेकर iOS 12 को काफी प्रभावित करते हैं। गूगल के अनुसार,:ये यह भी दर्शाता है कि एक ग्रुप कम से कम दो साल से iPhone यूजर्स को हैक करने की कोशिश कर रहा है।”

इन सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने दावा पेश किया है कि ऐसे अटैक में Apple iPhone की अलग अलग किस्म की खामियों को टारगेट किया जाता है। इस तरह हैकर्स Apple iphones के ऑपरेटिंग सिस्टम का संवेदनशील भाग अपने काबू में कर लेते हैं और इनमें मैलवेयर इंस्टॉल करके यूजर का डेटा ऐक्सेस करने में सफल होते हैं

गौर करने वाली बात ये है कि इस तरह के अटैक से यूजर्स को गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। इनमें से बैंकिंग की जानकारियों से लेकर, पासवर्ड चोरी, लोकेशन और दूसरी फाइल्स भी शामिल हैं जिन्हें हैकर्स ऐक्सेस करके आईफोन यूजर्स का काफी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

इसी साल गूगल की टीम ने Apple को इस बारे में बताया था और इसके तुरंत बाद कंपनी ने इसके लिए पैच भी जारी किया थे। यदि आप भी आईफोन यूजर है तो नए अपडेट को डाउनलोड करके इंस्टॉल कर लें जिससे आपका डाटा सुरक्षित रहे।

यह खबर लिखे जाने तक ऐपल की तरफ से इस डेवेलपमेंट पर किसी भी तरह का स्टेटमेंट जारी नहीं किया गया है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here