गोविंदा ने ऐसे क्यों कहा ‘मैंने जितनी फ़िल्में उनके साथ की है उतनी फिल्म उनका बेटा भी नहीं कर सकता है’

0
20
Govinda

Govinda – हाल ही में बॉलीवुड के हीरो नंबर – 1 यानी की गोविंदा टीवी शो आप की अदालत में पहुंचे। इस हाउ को रजत शर्मा द्वारा होस्ट किया जाता है। गोविंदा ने रजत शर्मा के इस शो अपने व्यक्तिगत जीवन से जुड़ी कुछ अनसुनी बातों के बारें में अच्छे से बताया। इतना ही नहीं उन्होंने अपने फ़िल्मी करियर से जुड़े भी बहुत से राज खोलें है। इस शो के दौरान उन्होंने अपने सबसे खास दोस्त डेविड धवन के बारें में कई बातें बताई है जिसके बारें में शायद ही आप अच्छे से जानते होंगे। डेविड धवन के बहुत प्रसिद्ध डायरेक्टर भी है। उन्होंने बॉलीवुड को बहुत सी यादगार मूवी दी है जिन्हे अलग आज भी उतना ही पंसद करते है जितना की वह फिल्म की रिलीज के समय करते थे।

Govinda

आप की अदालत शो में जब गोविंदा (Govinda) से उनके मित्र डेविड धवन को लेकर कुछ सवाल पूछे गए तो उन्होंने यह कहा की ‘मैंने डेविड धवन के साथ 17 फिल्मों में काम किया है। तो मैं उनसे सम्बन्ध नहीं निभाउंगा। इसके अलावा, गोविंदा ने यह भी कहा है की मुझे नहीं लगता है की जितनी फ़िल्में मैंने उनके साथ की है उनका बेटा भी उनके साथ कर पाएगा। साथ ही उन्होंने यह ही कहा की उनका बीटा काफी पढ़ा लिखा है लेकिन वह नहीं समझ सकता है की 17 फ़िल्में एक ही निर्देशक के साथ करना क्या होता है गोविंदा (Govinda) ने यह कहा एक बार संजय दत्त ने यह कहा था की उस पंजाबी यानी की डेविड धवन को काम दो।’ हम आपको बताना चाहते है की गोविंदा ने डेविड धवन के साथ 17 फिल्मों में साथ काम किया है जिसमें ‘पार्टनर’, ‘कुली नं 1’, ‘हीरो नं 1’, ‘शोला और शबनम’, ‘राजाबाबू’ जैसी सुपरहिट फिल्मों के नाम भी शामिल है। बहुत समय से गोविंदा और डेविड धवन को एक साथ नहीं देखा गया है।

ख़बरों के अनुसार बहुत समय से इन दोनों के रिश्तों में बिगड़ने की बातें की जा रही थी। इससे पहले वर्ष 2014 में इन दोनों के बीच कुछ दिक्क्त हुई थी जिसके बाद से इनको किसी भी पार्टी में साथ एकसाथ नहीं देखा गया था। लेकिन गोविंदा ने एक बयान जारी किया गया था जिसमें उन्होंने यह कहा था की ‘चश्मेबद्दूर’ का आइडिया उनके द्वारा ही डेविड धवन को दिया गया था। परन्तु किसी कारण वश डेविड धवन ने गोविंदा को छोड़कर ऋषि कपूर को इस मूवी के लिए चुन लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here