Mukherjee Nagar घटना – जाने आखिर क्यों पुलिस कर्मियों से हुई एक टैम्पो चालक की झड़प – जाने क्या है पूरा विवाद

0
159
Mukherjee Nagar

दिल्ली के Mukherjee Nagar में एक टैम्पो चालक की बेरहमी से पिटाई करने का मामला सामने आया है। यह घटना कल रात यानी 17 जून 2019 की देर रात  की है। छोटी सी बेहस के चलते ही कुछ पुलिसकर्मियों ने टैम्पू चालक की जमकर पिटाई की है। इतना ही उन्होंने उस टैम्पू चालक के बेटे को भी पीटा है। टैम्पू चालक एक सिख समुदाय का नागरिक है। इस घटना की वीडियो एक समय सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। इस घटने के बाद दिल्ली पुलिस द्वारा करवाई की जा रही है। आखिर यह पूरा विवाद क्यों हुआ?

जाने क्या है Mukherjee Nagar विवाद

टैम्पू चालक का नाम सरबजीत है तथा वह देर रात Mukherjee Nagar से होता हुआ गुजर रहा था। इस दौरान ही दिल्ली पुलिस की इमरजेंसी रिस्पांस गाड़ी  की टक्कर सरदार के टैम्पू से हो गई थी। mukherjee nagar जिसके कुछ समय बाद पुलिसकर्मियों और टैम्पू चालक के बीच झड़प हो गई। जिसमें टैम्पू चालक को पुलिसकर्मियों द्वारा डंडो से खूब पीटा गया था। इस घटने के बाद एक पुलिसकर्मी का यह कहना है की टैम्पू चालक ने अपनी कृपाल से हमला किया। इसके चलते पुलिसकर्मियों  को लाठीचार्ज करना पड़ा। इस पुरे विवाद के बाद टैम्पू चालक और पुलिसकर्मियों द्वारा FIR दर्ज करा दी गई है। इसके अलावा, ज्वाइंट कमिश्नर और क्राइम ब्रांच को इस मामले की पूरी जानकारी दे दी गई है।

Mukherjee Nagar की इस घटना के बाद सभी सिख संगठनों में गुस्सा

इस घटने के बाद दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा द्वारा सोमवार की शाम को दिल्ली के पुलिस कमिशनर से मिलकर इस घटने के दोषियों के खिलाफ करवाई करने की मांग की है। इतना ही नहीं आरपी सिंह खालसा के नेतृत्व द्वारा गृह मंत्रालय में शिकायत दर्ज कराई गई है।

सभी दल के नेताओं ने की Mukherjee Nagar विवाद निष्पक्ष जांच की मांग

दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल के साथ ही साथ पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह और भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी समेत कई दल ने नेताओं ने इस घटना पर जल्द से जल्द एक्शन लेने की मांग की है। पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा इस पूरी घटना को शर्मनाक बताया है। सभी दल के नेताओं ने इस घटना पर निष्पक्ष जाँच की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here