चीन के वुहान शहर से डराने वाली सैटेलाइट तस्वीरें, देख कर चौंक जाएंगे आप

3
वुहान शहर की सैटेलाइट तस्वीरें

चीन के वुहान प्रांत से शरू हुई बीमारी कोरोना वायरस थमने का नाम नहीं ले रही है। 31  दिसंबर 2019  को इस विषाणु की पहचान हुई थी । तबसे चीन के आधिकारिक रिकॉर्ड के हिसाब से एक हज़ार से ज्यादा लोग इस बीमारी से मर चुके है ।

पर हाल ही में कुछ ऐसी घटनाएं हुई है जिस से चीन के इन दावों पर शक होता है , ब्रिटेन की वेबसाइट डेली मेल ने अपनी वेबसाइट पर एक सॅटॅलाइट तस्वीर साझा की है ,  जिसमे वुहान प्रांत के ऊपर सल्फर गैस की एक मोटी परत दिखाई दे रही है , ऐसी संभावनाएं है की , चीन बड़ी संख्या में मृत लोगों का अंतिम संस्कार कर रहा है , जिसकी वजह से ये गैस की परत शहर के ऊपर बन गयी है। वैज्ञानिको का कहना है की सल्फर की ये परत इंसानी शरीर या मेडिक्सल वेस्ट जलने से उत्पन्न होती है ।

 सोशल मीडिया पर ये सॅटॅलाइट इमेज बहुत जल्दी शेयर हो रही है , सोशल मीडिया पर लोगों का मानना है की , चीन अपने बाहरी इलाके में दस हज़ार मृत लोगों का अंतिम संस्कार कर रहा है ।

हाल ही में हुई कुछ घटनाएं भी इस बात को पुख्ता करती है , जैसे टेनसेंट जो की  चीन की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है उसका डाटा लीक हुआ था , जिसके मुताबिक अबतक

25  हज़ार से ज्यादा लोग इस वायरस से मर चुकें हैं , एक वीडियो जो की सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी उसमे वुहान शहर के अस्पताल नंबर 4 में , लाशों का ढेर दिखाई दे रहा था । तब भी लोगों ने चीन में फैली इस महामारी पर शक जताया था ।

 

सरकार की अपील न करे बड़े अंतिम संस्कार

हाल ही में चीनी सरकार ने आर्डर जारी किआ , जिसमे लोगों से बड़े अंतिम संस्कार करने को मना किया गया था , लोगों को निर्देश दिए गए है की , मृत व्यक्ति का संस्कार जल्द से जल्द और सबसे पास कर दिया जाए क्यूंकि सरकार को डर है की बड़े आयोजनों से ये वायरस तेज़ी से फैल सकता है। वायरस फैलने के बाद वुहान शहर पूरी तरीके से बंद है , यहाँ सब लोग घर के अंदर रहने को मजबूर हैं । ये बात भी इस बात को बल देती है की शायद वायरस संक्रमण रोकने के लिए सरकार ने ये कदम लिए हो ।

 

❒ WHO ने दिया वायरस को नाम

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन ने कोरोना वायरस को नया  नाम दिया  है , इसका नाम COVID-19 रखा गया है। यह जानकारी डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस एधानोम गेब्रेयेसुस ने जिनेवा में दी , अबतक यह वायरस 25  से ज्यादा देशों में फ़ैल चूका है और एक विश्व आपत्काल बन चूका है , माना जाता है की यह वायरस चमगादड़ से होते हुए सांप के द्वारा इंसानों में आया होगा । विश्व भर के वैज्ञानिक इस वायरस की दवाई खोजने में लगे हुए है , ऑस्ट्रेलिया ने कहा है की वो चूहों पर इस दवाई की जांच कर रहा है ।

❖ और पढ़े

हॉलीवुड के बड़े सितारे है बिग बॉस के फैन , कर रहे है कंटेस्टेंट्स को सोशल मीडिया पर फॉलो

तेहरान से टेकऑफ के बाद यूक्रेन विमान 180 यात्रियों समेत क्रैश।

WHO Declared Global Health Emergency For Coronavirus

करीना कपूर की नूट्रियनिस्ट से जाने रोज आंवला खाने के फायदे

सफदरजंग हॉस्पिटल में रोबोट ने की 100 सर्जरी ,किडनी ट्रांसप्लांट में भी करेगा मदद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here