नागरिकता कानून के खिलाफ उत्तर प्रदेश मे लगाई धारा 144 (section 144 against cab protest)

0
section 144 india news

नागरिकता कानून के खिलाफ पर्दशन पूरे भारत मे बढ़ते ही जा रहे है।  नार्थ ईस्टर्न राज्य से शुरू हुए यह विद्रोह अब पूरे भारत मे फैलता जा रहा हैं। 

❍ उत्तर प्रदेश मे भी हुए प्रर्दशन 

उत्तर प्रदेश मे  भी अब प्रर्दशन नागरिक कानून के खिलाफ होने लगे है। उत्तर प्रदेश के कही इलाके और शहरो मे अब प्रदर्शन की आग फ़ैल सी गयी है। कही सारे उत्तर प्रदेश के इलाको मे प्रदर्शन हो रहे है। लोग सड़को पर आ गए है और भीड़ हिंसक हो गयी है। कही जगह सरकारी बसों मे तोड़फोड़  और पुलिस पर पथराव होने लगे है। 

धारा 144  लगायी 

नए आदेश के मुताबिक पूरे उत्तर प्रदेश मे अब  कही भी कोई धरना प्रदर्शन नहीं होगा। धारा 144  लगा दी गयी हैं। इसके  लागू होते ही 19 दिसंबर को पूरे उत्तर प्रदेश मे कही भी किसी तरह के भी धरने ,प्रदर्शन ,जलूस ,समेलन  या मशाल जलूस की कोई इजाजत नहीं मिलेगी। कोई भी इस तरह के प्रदर्शन करता हुआ पाया गया तो उस पर बहुत कड़ी करवाई  करी जाएगी। 

पुलिस ने प्रदर्शन से दूर रहने को कहा 

उत्तर प्रदेश के डी जी पी  ओपी सिंह  ने किसी भी प्रदर्शन से दूर रहने की सलाह दी हैं।  पुलिस ने पूरे लखनऊ  मे फ्लैग मार्च किया हैं। पुलिस ने लोगो से शांति बनाये रखने की अपील की हैं।  किसी को भी  किसी तरह के प्रदर्शन की इज़ाज़त नहीं दी गयी है। 

अगर कोई भी किसी तरह का प्रदर्शन करता हुआ पाया गया। तो उसके खिलाफ कड़ी करवाई की जाएगी पुलिस ने लोगो पूरे प्रदेश मे शांति बनाये रखने की अपील की है। 

नागरिकता कानून पर विद्रोह 

उत्तर प्रदेश मे इससे पहले विपक्ष  ने नागरिकता संशोधन कानून पर जोर विद्रोह किया था। विपक्ष ने प्रदेश की सरकार और  केन्द्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया हैं।  पूरा विपक्ष एक साथ खड़ा हो कर इस नागरिकता संशोधन कानून का विद्रोह कर रहा है। देश मे  हो रहे प्रदर्शन  के लिए  विपक्ष को ही ज़िम्मेदार ठहरा गया है।

❖ और पढ़ें:

नागरिकता के मुद्दे पर अमित शाह का जवाब (Amit Shah’s answer to the issue of citizenship)

मुजफ्फरपुर मे जलाई गयी लड़की ने दम तोडा। (Girl burnt in Muzaffarpur dies)

भारत के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया की नयी टीम का ऐलान (Australia’s new team announced against India)

बांग्लादेश ने भारत मे रहे अवैध बांग्लादेशियो की लिस्ट मांगी हैं (Bangladesh has sought a list of illegal Bangladeshis in India)

देश के इन जगहों पर क्रिसमस मनाये। (Celebrate christmas in these places of the country)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here