आखिर क्यों थमने का नाम नहीं ले रही है अमेज़न जंगल की आग?

40
fire in Amazon Rainforest

अमेज़न दुनिया का सबसे बड़ा रेन फॉरेस्ट है जो दक्षिणी अमेरिकी क्षेत्र ब्राज़ील में स्थित हैं। अमेजन के जंगल का क्षेत्रफल करीब 55 लाख वर्ग किमी हैं इसलिए इस जंगल को ‘दुनिया का फेफड़ा’ के नाम से भी जाना जाता है। शायद आपको पता नहीं होगा कि यहां की हरियाली से पूरे विश्व को 20 प्रतिशत ऑक्सीजन मिलती है। अमेज़न के जंगल ने एक बार फिर दुनिया का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित किया हैं (fire in Amazon Rainforest) और इसकी वजह है अमेज़न रेन फारेस्ट में लगी भयंकर आग।

वैसे तो इन रेन फॉरेस्ट में आग लगने की खबरें आती रहती हैं, लेकिन इस बार आग ने इतना भयावह रूप धारण कर लिया है कि ब्राजील का साओ पाउलो धुंए की वजह से अंधेरे में डूब गया है। 15 दिनों से लगातार भड़क रही इस आग ने इतना खतरनाक रूप ले लिया है कि इस जंगल के आसपास मौजूद इलाकों के आसमान ही काले पड़ गए हैं। जंगल में लगी आग को काबू करना मुश्किल है  क्योंकि यह एक बहुत बड़े भूभाग पर फैला हुआ है।

ख़बरों के मुताबिक, पिछले तीन हफ्ते से अमेजन नदी घाटी में फैले वर्षा वन जल रहे हैं। अब तक करीब 47 हजार वर्ग किमी जंगल जल कर राख़ हो चुके हैं। इन जंगलों की विशालता का अंदाज़ा आप इसी से ही लगा सकते है कि भारत के कुल 110 नेशनल पार्क करीब 41 हजार वर्ग किमी क्षेत्र में फैले हुए हैं।

अमेज़न रेनफॉरेस्ट में लगी आग से प्रभावित सामान्य जनजीवन (fire in Amazon Rainforest) 

ब्राजील की राष्ट्रीय अंतरिक्ष शोध संस्था (आईएनपीई) की रिपोर्ट्स के अनुसार, जनवरी से अभी तक इन जंगलों में आग लगने की 74 हजार से अधिक घटनाएं सामने आ चुकी हैं लेकिन पूरे 2018 में आग की 39 हजार मामले दर्ज़ हुए थे। ब्राज़ील में आग का कहर साफ़ तौर पर देखा जा सकता है। देश की राजधानी साओ पाउलो जो जंगल से लगभग 3200 किमी की दूरी पर स्थित है वहां पर दिन के समय में भी सूर्य नहीं दिखाई दे रहा हैं।

यहाँ दिन में भी धुएं की वजह से अंधेरा पसरा रहता है। अँधेरे के कारण लोगों को दोपहर में वाहनों की लाइट और घरों में बल्ब जलाकर काम करना पड़ रहा हैं। आग के कारण हालात इतने खराब हो गए है कि आसमान में लगभग 45 लाख वर्ग किमी क्षेत्र में धुआं फैला हुआ है। (fire in Amazon Rainforest) आग का रूप इतना भयावह है कि विभिन्न उपग्रहों से जंगलों से भी धुआं उठता नजर आ रहा है।

क्यों खास हैं अमेज़न के रेनफॉरेस्ट?

यहां दुनिया के एक तिहाई मुख्य वन स्थित हैं, जो हर वर्ष लगभग 90 से 140 अरब टन कार्बन सोखते हैं। इससे ग्लोबल वॉर्मिंग को रोकने में मदद मिलती है।

इस रेन फॉरेस्ट में 2।5 हजार किस्म की मछलियां, 30 हजार प्रजाति के वृक्ष, 500 स्तनधारी, 1।5 हजार तरह के पक्षी, 550 सरीसृप और 25 लाख किस्म के कीट पाएं जाते हैं।

यहां पिछले 20 वर्षों में 2200 नए पौधे और जीव खोजे गए।

अमेजन नदी दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी नदी है जो 6900 किमी में बहती है। विश्व का 20 प्रतिशत गैर-हिमीकृत पानी इसकी घाटी में ही उपलब्ध है।

यहां करीब 410 किस्म की जनजातियां 11 हजार वर्षों से रह रही हैं।

अमेज़न में आग का दोषी कौन?

विशेषज्ञों का मानना है कि ब्राजील में जंगलों की कटाई की वजह से ही आग लगने की घटनाएं दिन-प्रतिदिन बढ़ रही हैं। कुछ समय पहले भी शहरों को काले धुएं ने ढक लिया था जिससे काफी वायु प्रदूषण की समस्या उत्पन्न हो गई थी और सबकुछ धुंधला हो गया था। पर्यावरण कार्यकर्ताओं की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, अमेज़न में लगी आग fire in Amazon Rainforest के लिए ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो को जिम्मेदार ठहराते हैं। उनके मुताबिक, ब्राज़ील के राष्ट्रपति लकड़ी तस्करों और अवैध खनन में लोगों का तुष्टीकरण करते हैं जिसके कारण जंगलों की ये दुर्दशा हो रही है। राष्ट्रपति की नीतियों को भी दोष दिया जा रहा हैं।

ब्राज़ील को सोशल मीडिया और सेलेब्रिटियों का सपोर्ट –

अमेज़न में भड़की आग को दुनिया के साथ-साथ सोशल मीडिया का भी खूब सपोर्ट मिल रहा हैं। दुनिया में अमेज़न के लिए दुआएं मांगी जा रही है। यही कारण हैं कि ट्विटर पर हैशटैग ‘प्रेयर फॉर अमेजन्स’ और ‘अमेजनरेनफॉरेस्ट’ ट्रेंड करने लग गया था। कई यूजर्स ने मीडिया के दोहरे रवैये की तीखी आलोचना करते हुए लिखा कि वह नोट्रे डेम और अन्य आग की घटनाओं को ही प्रमुखता देता है लेकिन अमेजन के जंगलों में लगी आग को नजरअंदाज करता है।

दुनिया के साथ-साथ कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज ने घटना की गंभीरता को देखते हुए आवाज़ उठाई हैं और इस मामले पर ध्यान देने की गुज़ारिश की है। कुछ मशहूर सित्राओं के ट्वीट इस प्रकार हैं –

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा ने इंस्टाग्राम पर जंगल में लगी आग की तस्वीर को शेयर करते हुए कहा, “अमेजन के जंगल बीते हफ्ते से जल रहे है। ये सच में डरावनी खबर है। मैं उम्मीद करूंगी मीडिया इस पर ज्यादा अटेंशन दे। #saveamazon”

अर्जुन कपूर ने लिखा, “अमेजन रेनफॉरेस्ट में आग, ये बहुत ही भयावह खबर है। मैं ये सोच भी नहीं सकता कि इसका असर पूरी दुनिया के पर्यावरण पर क्या होगा। ये बहुत ही दुखद है। #PrayforAmazons”

एक्ट्रेस दिशा पाटनी ने भी इस बारे में लिखा, “भयावह है अमेजन के जंगल में आग। प्लेनट में 20 प्रतिशत ऑक्सीजन यहां से क्र‍िएट होती है। बीते 16 दिनों से यहां आग लगी हुई है। इस पर कोई मीडिया कवरेज नहीं हो रही है। क्यों?”

आलिया भट्ट ने भी अमेज़न के जंगलों में लगी आग के बारे में लिखा – (fire in Amazon Rainforest)

अमेज़न रेनफॉरेस्ट में भीषण रूप ले चुकी आग की तरफ दुनिया का ध्यान खींचने के लिए बॉलीवुड अभिनेत्री  दिया मिर्ज़ा लिखती हैं –

जैसाकि हमने आपको रूबरू कराया कि दुनिया के लिए अमेज़न के जंगलों का क्या महत्व है। इस विशाल जंगलों में लगी आग को काबू करने के लिए दुनियाभर में प्रार्थना की जा रही हैं। हम भी यही आशा करते हैं अमेज़न रेन फॉरेस्ट में लगी आग जल्दी से जल्दी काबू में आ जाए जिससे ब्राज़ील समेत पूरे पर्यावरण को हो रहा नुकसान थम सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here