क्या अंपायर के गलत फैसले से आउट हुए Dhoni ?

0
34
Dhoni

ICC Cricket World Cup 2019 की शुरुआत से ही टीम इंडिया को इस ख़िताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा था। लेकिन इस ICC Cricket World Cup 2019 के पहले सेमीफाइनल में हारने के बाद टीम इंडिया इस प्रतियोगिता से बाहर हो गई है। ICC Cricket World Cup 2019 का यह सेमीफाइनल मैच बारिश के चलते दो दिन तक चला था। इसमें टीम न्यूजीलैंड ने इंडिया को 18 रनों से हरा दिया है। न्यूजीलैंड इस मैच को जीतकर ICC Cricket World Cup 2019 के फाइनल के क्वालीफाई कर गई है। इससे पहले भी न्यूजीलैंड की टीम आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2015 के फाइनल में पहुँची थी। परन्तु टाइटल को अपने नाम कर पाने में असफल रही थी। कल के ICC Cricket World Cup 2019 के सेमीफाइनल मैच में Dhoni यदि रन आउट नहीं होते तो शायद मैच का रिजल्ट कुछ और ही होता है। क्या आपको पता है की Dhoni जिस गेंद पर आउट हुए थे वह नो बॉल थी। जिसको अंपायर द्वारा नो बॉल नहीं दिया गया था। Dhoni का ऐसे नो बॉल आउट होना मैच का सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट साबित हुआ है। इस नो बॉल की अनदेखी के बाद भारतीय फैंस बेहद नाराज है जिसका पता आप सोशल मीडिया से लगा सकते है।

टीम इंडिया के ऊपरी क्रम के बल्लेबाजों का निराशाजनक प्रदर्शन

ICC Cricket World Cup 2019 के इस सेमीफाइनल मैच में टीम इंडिया को न्यूजीलैंड ने 240 रनों का लक्ष्य दिया था। यह लक्ष्य आपको दिखने में छोटा लग रहा होगा। परन्तु आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में यह एक अच्छा स्कोर है। क्योंकि ऐसे मुकाबले में वैसे ही टारगेट चेस करते समय 30 – 40 रन बढ़ जाते है। ऐसे कुछ टीम इंडिया के साथ इस ICC Cricket World Cup 2019 के मैच में हुआ है। इसके अलावा, भी टीम इंडिया पर बारिश का दवाब था। क्योंकि टीम इंडिया को पार स्कोर को देखते हुए बल्लेबाजी करनी थी। जिसके चलते टीम इंडिया के बल्लेबाजों जल्दबाजी में अपने विकेट खो दिए। टीम इंडिया के ऊपरी क्रम तीन बल्लेबाज मात्र 1 रन के स्कोर पर ही आउट हो गए।

जडेजा का शानदार प्रदर्शन भी नही दिला पाया टीम इंडिया को फ़ाइनल का टिकट

टीम इंडिया की ओर से इस मैच में महेंद्र सिंह Dhoni ने शानदार बल्लेबाजी की। इतना ही रविंद्र जडेजा ने भी अपने बल्ले का कमाल दिखाया था। ICC Cricket World Cup 2019 के इस सेमीफाइनल मैच में रविंद्र जडेजा ने शानदार 77 रनों की पारी खेली। जबकि Dhoni 50 बनाकर आउट हो गए थे। परन्तु वह दोनों बल्लेबाज इस मैच में आउट नहीं होते तो टीम इंडिया इस मैच को जीत सकता था। क्योंकि जिस समय रविंद्र जडेजा आउट हुए थे तो उस समय टीम इंडिया को मैच जीतने के लिए 12 गेंदों पर 32 रनों की जरूरत थी। आज के टाइम को देखते हुए यह रन बनाना अधिक मुश्किल नहीं था। क्योंकि जीतना बल्लेबाज दवाब में होता है उतना ही गेंदबाज भी प्रेशर में रहता है। लेकिन कल के मैच में किस्मत ने गेंदबाज का साथ दे दिया। जिसके चलते टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा।

धोनी का रन आउट होना था मैच का टर्निंग पॉइंट

इस मैच में सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट Dhoni का रन आउट होना था। मैच खत्म होने के बाद इस बात का पता चला है की Dhoni जिस बॉल पर रन आउट हुए थे वह दरअसल में नो बॉल थी। यह अंपायर की सबसे बड़ी गलती थी। क्योंकि Dhoni जिस टाइम पर हुए थे वह मैच का अहम पल था। Dhoni इस ICC Cricket World Cup 2019 के सेमीफाइनल मैच में काफी अच्छा खेल रहे थे। वह चाहते थे की इस मैच को अंत तक ले जाया जा सके। क्योंकि Dhoni जब बैटिंग करने आए थे तो उस समय टीम इंडिया की हालत बहुत ख़राब थी। ऐसा लग रहा था की टीम इंडिया 240 तो दूर 100 रन  नहीं बना पाएगी। लेकिन Dhoni ने संभल के बल्लेबाजी की और मैच को अंतिम ओवर तक ले गए।

दरसअल Dhoni जिस बाल पर आउट हुए थे उस बॉल को अंपायर द्वारा नो बॉल देनी चाहिए थी। क्योंकि जब Dhoni बैटिंग कर रहे थे उस समय 30 यार्ड के बाहर पाँच फील्डर खड़े ते जबकि नियम के अनुसार, केवल चार फील्डरों का ही 30 यार्ड का बाहर खड़े होने की है अनुमति होती है। लेकिन उस समय न्यूजीलैंड के पाँच खिलाड़ी 30 यार्ड के बाहर खड़े थे। नियम के अनुसार, यह नो बॉल थी। यदि अंपायर द्वारा इस गेंद को नो बॉल दिया जाता तो Dhoni एक रन के लिए नहीं दौड़ते और सबसे अच्छी बात तो यह थी की अलगी गेंद फ्री फिट होती तथा स्ट्राइक पर Dhoni होते। अगर ऐसा होता तो इस बॉल पर एक बॉउंड्री आना तो कन्फर्म था। परन्तु ऐसा नहीं हुआ जिसके चलते Dhoni को इस बॉल पर स्ट्राइक अपने पास रखने के लिए दो रन के लिए भागना पड़ता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here